World Cancer Day

World Cancer Day

World Cancer Day 4 February

World Cancer Day is a growing global movement bringing together communities from all over the world to join in the fight against cancer in a positive and inspiring way. It takes place each year on February 4th. In 2018, the aim is to inspire healthy cities and communities to fight cancer. World Cancer Day is an opportunity for teachers, librarians, students, heath practitioners and parents to learn more, raise awareness, take action and engage in this critically important health issue.

World cancer day theme

The day is celebrated every year, World Cancer Day is celebrated with a theme. Some of the themes are as follows:

  • World Cancer Day 2015 theme – Not beyond us
  • World Cancer Day 2016- 2018 theme – We can, I can
  • World Cancer Day 2020 theme – ‘I Am and I Will’, an empowering call for personal commitment and represents the power of our actions taken now to reduce the growing impact of cancer.
  • World Cancer Day 2021 Theme – “I am and I will” ( In 2019, the theme ‘I Am and I Will’ was introduced and was to be carried on till 2021).


why do we celebrate world cancer day

• To encourage the detection and treatment of cancer, to make the governments and people in the world sensitive and aware of prevention and to remove the misconceptions spread in the backward societies of the world.

When was world cancer day first celebrated

• 4 February 2000 – Paris Charter at the World Summit against Cancer for the New Millennium in Paris.
• 4 February 1933 – Establishment of the Union for International Cancer Control (UICC) in Geneva, (Switzerland).
On this day, various government and non-governmental organizations undertake various cancer prevention campaigns.

World cancer day awareness

World cancer day awareness very important to save millions of preventable deaths each year by raising awareness , prevention and to remove the misconceptions spread in the backward societies of the world and education about cancer, and pressing governments and individuals across the world to take action against the disease.

Union for International Cancer Control (UICC)
  • It currently has more than 50 strategic partners and over 1200 organizations in 172 countries.
  • Apart from representing the world’s leading cancer societies, ministries of health and patient groups, it includes influential policy makers, researchers and experts for cancer prevention and control.

Myth or fallacy

• Many people in the world believe that living with or touching a cancer victim can also cause this fatal disease. Because of this, the patient is seen as hatred and untouchable in society.

“I am and I will” campaign

• This campaign has been started from the year 2019 to 2021 which represents personal commitment and individual effort to influence the future.
Year 2010 – National Cancer, Diabetes, Cardiovascular Disease and Trauma Prevention and Control Program (NPCDCS) was launched to control major non-communicable diseases (NCDs).

What is cancer ?

Cancer is the generic name for a group of diseases in which some cells within the body grow uncontrolled.
Untreated cancer spreads to surrounding normal tissues or other parts of the body.

Main reason

• Infections from parasites such as physical carcinogenic elements (ultraviolet and ionizing radiation), chemical carcinogenic elements (asbestos, tobacco, aflatoxin and arsenic), biological carcinogenic elements (viruses, bacteria or hepatitis B and C viruses and human papillomaviruses).
• The cancer mortality rate in the world is estimated to be almost double by the year 2030 which is now 9.6 million per year. At least one third of common cancers are preventable.
• 71% of lung cancer deaths are associated with tobacco intake, which is 22% of all cancers.

The five most common cancers in India

• Breast cancer, cervical cancer or cervical cancer, oral cancer, lung and colorectal (stomach or large bowel) cancers.

Prevention Methods and Measures

• Regular health including eating various types of vegetables, fruits, legumes, nuts and whole grains, as well as regular physical exercise and control of obesity, distance from alcohol, smoking and tobacco, vaccination and warning signs against HPV and Hepatitis B virus Screening and cancer testing.

🔴 4 फरवरी :- विश्व कैंसर दिवस 🙏

विश्व कैंसर दिवस एक बढ़ता हुआ वैश्विक आंदोलन है जो दुनिया भर के समुदायों को एक सकारात्मक और प्रेरणादायक तरीके से कैंसर के खिलाफ लड़ाई में शामिल होने के लिए ला रहा है। यह प्रत्येक वर्ष 4 फरवरी को होता है। 2018 में, इसका उद्देश्य स्वस्थ शहरों और समुदायों को कैंसर से लड़ने के लिए प्रेरित करना है। विश्व कैंसर दिवस शिक्षकों, पुस्तकालयाध्यक्षों, छात्रों, हीथ चिकित्सकों और अभिभावकों के लिए अधिक जानने, जागरूकता बढ़ाने, कार्रवाई करने और इस गंभीर रूप से महत्वपूर्ण स्वास्थ्य मुद्दे में संलग्न होने का अवसर है।

• विश्व कैंसर दिवस की थीम

विश्व कैंसर दिवस 2015 विषय – हमसे परे नहीं

विश्व कैंसर दिवस 2016- 2018 थीम – हम कर सकते हैं, मैं कर सकता हूं

विश्व कैंसर दिवस 2020 का विषय – ‘आई एम एंड आई विल’, व्यक्तिगत प्रतिबद्धता के लिए एक सशक्त कॉल है और कैंसर के बढ़ते प्रभाव को कम करने के लिए अब की गई हमारी क्रियाओं की शक्ति का प्रतिनिधित्व करता है।

विश्व कैंसर दिवस 2021 थीम – “मैं हूं और मैं करूँगा” (2019 में, थीम ‘आई एम एंड आई विल’ को पेश किया गया था और 2021 तक चलाया जाना था)।

हम विश्व कैंसर दिवस क्यों मनाते हैं

• कैंसर की पहचान और उपचार को प्रोत्साहित करते हुए विश्व में सरकारों तथा लोगों को रोकथाम के लिए संवेदनशील व जागरूक करना व विश्व के पिछड़े समाजों में फैली भ्रांतियों को दूर करना है।

विश्व कैंसर दिवस कब मनाया गया?

• 4 फरवरी वर्ष 2000 – पेरिस में न्यू मिलेनियम के लिए कैंसर के खिलाफ़ विश्व शिखर सम्मेलन में पेरिस चार्टर द्वारा।
• 4 फरवरी वर्ष 1933 – जिनेवा, (स्विट्जरलैंड) में यूनियन फॉर इंटरनेशनल कैंसर कंट्रोल (यूआईसीसी) की स्थापना।
• इस दिवस पर विभिन्न सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं द्वारा कैंसर से बचाव के विभिन्न अभियान चलाए जाते हैं।

विश्व कैंसर दिवस जागरूकता

विश्व कैंसर दिवस जागरूकता हर साल जागरूकता , रोकथाम और दुनिया के पिछड़े समाजों में फैली भ्रांतियों को दूर करने और कैंसर के बारे में शिक्षा, और दुनिया भर में सरकारों और व्यक्तियों पर दबाव बनाने के लिए लाखों रोकथाम योग्य मौतों को बचाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

यूनियन फॉर इंटरनेशनल कैंसर कंट्रोल (UICC) :

• वर्तमान में 50 से अधिक रणनीतिक साझेदार व 172 देशों में 1200 से अधिक संगठन इसके सदस्य हैं।
• दुनिया के प्रमुख कैंसर समाजों, स्वास्थ्य व रोगी समूहों के मंत्रालयों का प्रतिनिधित्व करने के अलावा कैंसर की रोकथाम और नियंत्रण हेतु प्रभावशाली नीति निर्माताओं, शोधकर्ताओं और विशेषज्ञ इसमें शामिल हैं।

मिथक या भ्रांति :

• दुनिया में बहुत से लोग मानते है कि कैंसर पीड़ित के साथ रहने या स्पर्श से उन्हें भी ये घातक बीमारी हो सकती है। इस वजह से रोगी को समाज में घृणा और अछूत के रूप में देखा जाता है।

मैं हूं और मैं करूँगा” अभियान :

• वर्ष 2019 से 2021 तक इस अभियान की शुरूआत की गई है जो कि व्यक्तिगत प्रतिबद्धता तथा भविष्य को प्रभावित करने के लिए की जाने वाली व्यक्तिगत कोशिश का प्रतिनिधित्व करता है।
• वर्ष 2010 – मुख्य ग़ैर संचारी रोगों (एनसीडी) को नियंत्रित करने हेतु राष्ट्री य कैंसर, मधुमेह, हृदयवाहिका रोग और आघात रोकथाम एवं नियंत्रण कार्यक्रम (एनपीसीडीसीएस) शुरू किया गया।

कैंसर क्या है ?

• कैंसर रोगों के समूह का सामान्य नाम है, जिसमें शरीर के भीतर कुछ कोशिकाएं अनियंत्रित होकर बढ़ती हैं।
• अनुपचारित कैंसर आसपास के सामान्य ऊतकों या शरीर के अन्य हिस्सों में फैलता है।

प्रमुख कारण

• शारीरिक कैंसरकारी तत्व (पराबैंगनी व आयनीकरण विकिरण), रासायनिक कैंसरकारी तत्व (ऐस्बेस्टस, तंबाकू, एफ्लोटॉक्सिन व आर्सेनिक), जैविक कैंसरकारी तत्व (वायरस, बैक्टीरिया या हेपेटाइटिस बी और सी वायरस और मानव पेपिलोमावायरस) जैसे परजीवियों से होने वाला संक्रमण।
• विश्व में वर्ष 2030 तक कैंसर से मृत्यु दर लगभग दोगुनी होने का अनुमान है जो अभी 9.6 मिलियन प्रतिवर्ष हैं। वही कम से कम एक तिहाई सामान्य कैंसर निवारण योग्य हैं।
• 71% फेफड़ों के कैंसर से होने वाली मृत्यु तंबाकू सेवन से जुड़ी है जो कि सभी प्रकार के कैंसरों से होने वाली मृत्यु का 22% हैं।

भारत में पांच सबसे अधिक होने वाले कैंसर

• स्तन कैंसर, सर्वाइकल कैंसर या ग्रीवा का कैंसर, मुंह का कैंसर, फेफड़े और कोलोरेक्टल (पेट या बड़ी आंत्र) कैंसर हैं।

बचाव के तरीक़े व उपाय

• विभिन्न प्रकार की सब्जियां, फल, फलियां, मेवा और साबुत अनाज खाने के साथ ही नियमित शारीरिक व्यायाम और मोटापे पर नियंत्रण, अल्कोहल, ध्रूमपान व तंबाकू से दूरी, एचपीवी और हेपेटाइटिस बी वायरस के खिलाफ़ टीकाकरण व चेतावनी संकेतों को जानते हुए नियमित स्वास्थ्य जांच और कैंसर परीक्षण।

Leave a comment